February 14, 2020

अगले शिक्षा सत्र से दो चरणों में होगा केम्ब्रिज असेसमेंट इंग्लिश प्रशिक्षण – मंत्री पटवारी

Last Updated on

 भोपाल

उच्च शिक्षा मंत्री  जीतू पटवारी ने कहा है कि कैम्ब्रिज असेसमेंट इंग्लिश का प्रशिक्षण अगले शिक्षा सत्र से दो चरणों में किया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रत्येक चरण में 25-25 हजार विद्यार्थी प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे।  पटवारी उच्च शिक्षा उत्कृष्टता संस्थान में कैम्ब्रिज असेसमेंट इंग्लिश के सर्टिफिकेशन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

मंत्री  पटवारी ने विद्यार्थियों में न्यूज चैनल्स और समाचार-पत्रों के प्रति सम्मान पैदा करने पर जोर देते हुए कहा कि खबरों की हकीकत से रू-ब-रू होना अत्यावश्यक है। सोशल मीडिया पर वायरल होती खबरों की हकीकत से कम ही लोग वाकिफ होते हैं। उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा विभाग फेसबुक के साथ मिलकर युवाओं को असली-नकली खबरों में फर्क समझाने के लिए अभियान शुरू करने जा रहा है। उन्होंने बताया कि फेसबुक द्वारा 200 मास्टर ट्रेनर्स तैयार कर प्रदेश के प्रत्येक कॉलेज में युवाओं को खबरों के बीच फर्क समझाने का काम किया जायेगा।

उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि उच्च शिक्षा उत्कृष्टता संस्थान की अपनी एक अलग पहचान है। उन्होंने कहा कि संस्थान में अगले सत्र से सभी क्लासरूम में वाई-फाई लगाए जाएंगे। संस्थान परिसर में एक हजार क्षमता का ऑडिटोरियम भी जल्द बनवाया जायेगा।

कैम्ब्रिज असेसमेंट इंग्लिश (यूके) की सीईओ सु फ्रांसिस्का वुडवर्ड ने मध्यप्रदेश सरकार की सराहना की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में विद्यार्थियों की बेहतर और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है। सु वुडवर्ड ने बताया कि प्रदेश के विभिन्न महाविद्यालयों के विद्यार्थियों ने कैम्ब्रिज असेसमेट इंग्लिश प्रशिक्षण कार्यक्रम में बेहतर प्रदर्शन कर बी-1 लेवल प्राप्त किया है।

उच्च शिक्षा मंत्री  पटवारी ने इस मौके पर विभिन्न महाविद्यालयों के छात्र-छात्राओं को कैम्ब्रिज असेसमेंट इंग्लिश प्रशिक्षण के प्रमाण-पत्र वितरित किए। साथ ही, उच्च शिक्षा उत्कृष्टता संस्थान के वार्षिक एवं सांस्कृतिक कैलेण्डर का विमोचन भी किया।

कार्यक्रम में विधायक  कुणाल चौधरी, उच्च शिक्षा उत्कृष्टता संस्थान के प्राचार्य  एस.एस. विजयवर्गीय तथा बड़ी संख्या में शिक्षक और विद्यार्थी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *