January 17, 2021

दिग्गज अभिनेता और निर्देशक बिस्वजीत चटर्जी को 51वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में भारतीय व्यक्तित्व पुरस्कार से सम्मानित किया गया

नई दिल्ली : गोवा में भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह- आईएफएफआई के 51वें संस्करण में हिंदी और बंगाली सिनेमा के जाने – माने दिग्गज अभिनेता, निर्माता, निर्देशक और गायक श्री बिस्वजीत चटर्जी को भारतीय व्यक्तित्व पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर ने इस महोत्सव के उद्घाटन समारोह के अवसर पर पुरस्कार की घोषणा की।

केंद्रीय मंत्री ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि, यह पुरस्कार उन्हें मार्च 2021 में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार प्रदान किए जाने के मौके पर दिया जाएगा। बिस्वजीत चटर्जी को फिल्म बीस साल बाद में कुमार विजय सिंह, कोहरा में राजा अमित कुमार सिंह, अप्रैल फूल में अशोक, मेरे सनम में रमेश कुमार, नाइट इन लंदन में जीवन, दो कलियां में शेखर और फिल्म किस्मत में विक्की जैसे किरदारों के लिए जाना जाता है। उनकी जोड़ी आमतौर पर आशा पारेख, वहीदा रहमान, मुमताज, माला सिन्हा और राजश्री जैसी उल्लेखनीय अभिनेत्रियों के साथ नज़र आती थी।

उनकी कुछ प्रमुख बंगाली फिल्मों में चौरंगी (1968) और उत्तम कुमार के साथ गढ़ नसीमपुर और कुहेली इसके बाद में श्रीमान पृथ्वीराज (1973), जय बाबा तारकनाथ (1977) और अमर गीती (1983) शामिल हैं। बिस्वजीत ने वर्ष 1975 में अपनी फिल्म ‘कहते हैं मुझको राजा’ का निर्माण और निर्देशन किया। अभिनेता एवं निर्देशक के अलावा वह एक गायक और निर्माता भी रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *