November 22, 2020

डॉ रमन सिंह धान के बोनस देने को लेकर केंद्र का अड़ंगा हटाए 2500 रु में खरीदी के लिए कटिबद्ध है भूपेश सरकार

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी रिसर्च विभाग के अध्यक्ष इदरीस गांधी ने आज पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह के बयान पर पलटवार करते हुए छत्तीसगढ़ के किसानों का धान ₹2500 प्रति क्विंटल खरीदे नही कर पाने के लिए केंद्र की मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराया है.

इदरीश ने आरोप लगाया है कि केंद्र सरकार ने जानबूझकर छत्तीसगढ़ के किसानों को एक साथ ₹2500 प्रति क्विंटल धान बिक्री की रकम ना मिले इसके लिए रोक लगा रखी है बार-बार राज्य सरकार की मांग के बावजूद समर्थन मूल्य से अधिक की खरीदी के लिए केंद्र ने छत्तीसगढ़ सरकार को मना किया हुआ है लेकिन छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार किसानों को ₹2500 प्रति क्विंटल धान का समर्थन मूल्य देने के लिए कटिबद्ध है इसलिए राजीव गांधी न्याय योजना के तहत किस्तों में खरीदी के अंतर की राशि दी जा रही है और इस राशि की अब तक 3 किश्त पाकर किसान गदगद है धान खरीदी के ठीक पहले एक नवम्बर को ही तीसरी किस्त देकर किसानों को सरकार ने दिवाली का तोहफा दिया है लेकिन किसान हितेषी इन कामों से भाजपा के पेट में दर्द हो रहा है इसीलिए एक तरफ तो किसानों को पैसा दिए जाने पर केंद्र रोक लगा रही है वहीं उनके राष्ट्रीय पदाधिकारी डॉ रमन सिंह किसान हितैषी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार पर सवाल उठा कर किसानों को भ्रमित करना चाहते हैं जबकि किसान अच्छे से समझ चुका है कि 15 साल के कार्यकाल में किसने बोनस नहीं दिया और समर्थन मूल्य का वादा भी नहीं निभाया इसलिए अब भाजपा नेताओं के बहकावे में किसान नहीं आएंगे.

धान का समर्थन मूल्य और राजीव गांधी न्याय योजना की रकम से आज छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था सुदृढ़ हुई है और किसानों के पास क्रय शक्ति बढ़ी है यही वजह है कि आज छत्तीसगढ़ के बाजार गुलजार हैं ऐसे में न केवल किसान बल्कि व्यापारी भी खुश है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *