November 21, 2020

भूटान की ज़रूरतें पूरी करना हमेशा भारत की सर्वोच्च प्राथमिकता : मोदी

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और भूटान के प्रधानमंत्री लोते छेरिंग ने आज संयुक्‍त रूप से ई-रूपे कार्ड के दूसरे चरण की शुरूआत की। पिछले वर्ष अगस्त में प्रधानमंत्री मोदी की भूटान यात्रा के दौरान दोनों नेताओं ने परियोजना के पहले चरण की संयुक्त रूप से शुरुआत की थी।

मोदी ने कहा कि भारत कोविड-19 महामारी के कठिन समय में भूटान के साथ खड़ा है। उन्‍होंने कहा कि भूटान की आवश्‍यकताएं भारत की सर्वोच्‍च प्राथमिकता में शामिल हैं। उन्‍होंने कहा कि रूपे कार्ड के दूसरे चरण की शुरूआत से दोनों देशों के बीच संबंधों को और बढ़ावा मिलेगा।

मोदी ने अगले वर्ष इसरो की सहायता से अंतरिक्ष में भेजे जाने वाले भूटान के उपग्रह पर तेजी से चल रहे काम पर भी प्रसन्‍नता व्‍यक्‍त की। उन्‍होंने कहा कि इसके लिए भूटान के चार अंतरिक्ष वैज्ञानिक दिसंबर में इसरो आएंगे।

भूटान के प्रधानमंत्री लोते छेरिंग ने कोविड महामारी से निपटने में प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्‍व की सराहना करते हुए आशा व्‍यक्‍त की कि भारत महामारी के बाद और मजबूत होकर उभरेगा। उन्‍होंने कहा कि कोविड वैक्‍सीन विकसित करने में भारत की बढ़त सभी के लिए आशा की किरण है। श्री छेरिंग ने वैक्‍सीन तैयार होने के बाद भूटान को इसे उपलब्‍ध कराने के आश्‍वासन पर प्रधानमंत्री मोदी का आभार जताया ।

रूपे कार्ड के पहले चरण की परियोजना पर अमल के बाद भारत से भूटान जाने वाले लोगों को एटीएम और पीओएस टर्मिनल के इस्‍तेमाल की सुविधा प्राप्‍त हुई है। दूसरे चरण में अब भूटान के नागरिक भारत में रूपे कार्ड नेटवर्क का उपयोग कर सकेंगे।

साभार : newsonair.com/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *