February 27, 2017

झूठे षडयंत्र रचने में महारत हासिल है भूपेस को :j.c.c.{j}सुप्रीमो अजीत जोगी


जोगी एक्सप्रेस छत्तीसगढ़
रायपुर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़(जे) के पद्रेश प्रवक्ता एवं राजनैतिक सचिव अशोक शर्मा ने बताया की झूठे षडयंत्र रचने में महारत हासिल है भूपेश को वो अयसा सिर्फ अपना अस्तित्वा बचने के लिए कर रहे है या कोई सजिश के तहत जनता का ध्यान बतना चाह रहे|वैसे भी भूपेस को अप्रसांगिक पार्टी कांग्रेस के अध्यक्ष भूपेश बघेल के द्वारा माननीय अजीत जोगी पर जाति मामला टालने का षडयंत्र कर जो आरोप लगाया है वह आपत्तिजनक निरोपित करते हुए कहा कि लंबित मामले में इतनी बेसबरी क्यों है । शर्मा ने कहा कि जोगी जी कभी भी षडयंत्रो में सम्मिलित नही रहते बल्कि उनके ऊपर षडयंत्रपूर्वक भाजपा सरकाार व षडयंत्रकारियों द्वारा आरोप लगाये चाहे वह विधायक खरीद फरोब का षडयंत्र कर लगाया गया झूठा आरोप और उस आरोप का हर्ष भी छत्तीसगढ़ की जनता के सामने आया। शर्मा ने कहा कि भूपेश बघेल की राजनीति केवल पी0सी0सी के कमरे तक एवं आधारहीन वक्तव्यों तक सीमित है वे जोगरिया रोग से ग्रसीत है। जाति के मामले में पूर्व में भी जोगी जी के पक्ष में प्रमाणित माना गया निर्णय आदेशों का जोगी जी ने हमेशा सम्मान किया है । चर्चा में बने रहने और वजूद बनाए रखने के लिए भूपेश बघेल जो कि समझ चुके है कि उनके ही गृह क्षेत्र में नगर पालिका चुनाव में वजूद न होने से कांग्रेस को जिता नही पाया और अपने घर के आस पास के वार्ड पार्षदों को भी नहीं जीता पाया । जोगी जी के जनाधार से परेशान अर्नगल बयानबाजी करते है। शराबबंदी , पोलावरम, इंद्रावती जैसे मुददों पर भाजपा को पीछे खड़ा कर देने पर अप्रसांगिक पार्टी के अध्यक्ष भाजपा के साठ-गाठ तक वक्तव्य दे रहे है और भारतीय जनता पार्टी को बचाव करना चाहते है। मंत्री रहने के दौरान भ्रष्टाचार के आरोप लगे परिजनो पर गरीब किसानों की जमीने हड़पने , गरीबों के लिए मिर्मित मकानों को अभिन्यास में परिवर्तन कर प्राप्त करने की जांच जिस पर निवास रत है और जांच लंबित है तथा उसके निर्णय न आये एवं सत्तारूल पार्टी भाजपा को जनहित के मुददे पर जोगी कांग्रेस से बचाव के लिए मददगार के रूप में मदद कर और हो रही जांच में विलम्ब करने का षडयंत्र सहयोग के लिए कर रहे है जिसे जनता समझती है । शर्मा ने कहा कि झीरम परिवर्तन यात्रा में भूपेश बघेल , चरणदास महंत एक अन्य हर यात्रा में मौजूद रहे किन्तु जिस दौरान स्व. नंदकुमार पटेल के नेतृत्व में यात्रा बस्तर के दरभा गई उस दौरान उपरोक्त तीनों क्यों नहीं गये, उन्हे किसने रोका, उसके पश्चात् किसे राजनैतिक फायदा हुहा। जिस संबंध में महामहिम राज्यपाल ज्ञापन देकर जांच की मांग की गई थी उस पर जांच क्यों नही की जा रही है ? शर्मा ने प्रधानमंत्री भारत सरकार से मांग की है कि उक्त तथ्य को भी गठित आयोग की जांच में लाया जाये, उपरोक्त राजनैतिक षडयंत्र की जांच में इस तथ्य का भी निवारण किया जाये। अन्तागढ़ उप चुनाव में किसका षडयंत्र है कौन प्रलोभ्न देकर प्रदेश कांग्रेस में पद किसे दे रहा था। इस तथ्य को भी छत्तीसगढ़ भली भांति जान चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *