February 26, 2017

चमेलीपारा छत्तीसगढ़ मे नहीं है पीने का पानी,बिजली सड़क ,क्या प्रदेश के मुखिया भी है बेखबर

*मुलभुत सुविधाओ को तरसते चमेलिपारा के ग्रामीण*

*अधिकारियो की उदासीनता का खामियाजा भुगत रहे ग्रामीण*

*पानी के लिए दो किमी का सफर तय*

जोगी एक्सप्रेस
अजय तिवारी छत्तीसगढ़

सूरजपुर/भटगांव. जिले के प्रतापपुर ब्लाक अंतर्गत ग्राम पंचायत गोंदा के चमेली पारा के ग्रामीण अजादी के 66 वर्ष व्यतीत होने के बाद आज
भी मुलुभूत सुविधाओं से वंचित होते हुए विकास से कोशो दुर है ।

प्राप्त जानकारी के अनुसार चमेलीपारा मे करीब दर्जनो परिवार निवासरत है किन्तु विडम्बना यह है भी इस मोहल्ले के ग्रामीणों को आज तक बिजली ,पानी की सुविधा उपलब्ध नही हो सकी है जिस कारण यहॉ के ग्रामीण आज भी नाले व ढोणी का पानी पिने को मजबुर है ।
ग्रामिणो ने पानी एवम बिजली की समस्या को लेकर कई बार अधिकारीयो सहीत क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियो से सम्पर्क कर अवगत कराया गया मगर इस ओर किसी ने ध्यान नही दिया जिसका खमियाजा ग्रामीण भुगत रहे है तथा आज यह स्थिति है की ग्रामिण अपने परिवार के साथ सुबह शाम पानी लेने बस्ती से लगभग दो किमी दुर का सफर तय करते है तब जाकर कहीं पिने को पानी नशीब होता है । ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम पंचायत के सरपंच से भी कई बार इस संबंध में ध्यान आकर्षित कराया गया मगर उनके द्वारा भी किसी तरह के पहल नही किया गया । ग्रामीणों ने यह भी कहा कि नाले और ढोड़ी का पानी पिने से कई प्रकार की बिमारीयो के फैलने का डर हमेशा बना रहता है फिर भी मजबूरी में इस पानी को पिने को विवश है ।

वही इस संबध मे ग्राम पंचायत गोंदा के सरंपच ने बताया कि इस मोहल्ले में पानी की व्यवस्था के लिए कितने बार जनदर्शन सहीत जनपद कार्यालय प्रतापपुर मे आवेदन दिया गया मगर अब उनके द्वारा तक किसी तरह कि पहल नही कि गई है ।जिस कारण ग्रामिणो को भारी परेशानी उठानी पड रही है ।

*इस संबंध में कलेक्टर जनदर्शन में शिकायत मिली थी ।उस मोहल्ले के लिए बोरवेल स्वीकृत हो गया है जल्द ही नलकूप खनन किया जायेगा ।

श्री देवांगन
एस डी ओ
लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी
प्रतापपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *