September 28, 2020

राजधानी रायपुर लॉकडाउन खोलने पर नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के बयान पर कांग्रेस का पलटवार।

अनलॉक, दो वक्त की रोजी रोटी, प्रतिदिन कमाने खाने वाले गरीब, मजदूर, फल, सब्जी विक्रेता, कामगार के लिए आवश्यक – कांग्रेस

रायपुर 28 सितंबर 2020 कोरोना संक्रमिततो की बढ़ती संख्या को देखते हुए अनेक संगठनों द्वारा निर्णयों के आधार पर रायपुर जिले को लॉक डाउन करने का फैसला जिलाधीश रायपुर ने लिया था संक्रमण की चैन को रोकना मुख्य आधार था और वह दिखाई भी पड़ा जहां प्रतिदिन प्रदेश में 3000 से अधिक संक्रमितो की संख्या और रायपुर में 1000 से अधिक संक्रमितों की संख्या ने इस लॉकडाउन को आवश्यक समझा गया।

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी वरिष्ठ प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने 29 सितंबर से अनलॉक हो रहे रायपुर जिले पर भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि, भाजपा नेता पहले यह तय करले कि, लॉकडाउन के पक्षधर है या अनलॉक के क्योकि लॉकडाउन न हो तो इन्हें तकलीफ अनलॉक हो तो भी, भाजपा संकटकाल में भी राजनीति करने से बाज़ नही आ रही। भारतीय जनता पार्टी को लॉकडाउन से शायद फर्क न पड़ता हो, 15 वर्षों में भ्रष्टाचार और कमीशनखोरी से कमाए अथाह धन संपत्ति एकत्रित कर रखे हैं, जो उनके जीवन यापन में अड़चनें पैदा नहीं करने देती और पूंजीवादी,व्यापारी सोच की भाजपा नेताओं को फर्क नही पड़ता परंतु दो वक्त की रोजी रोटी के लिए रोज कमाने खाने वाले गरीब,मजदूर,फल,सब्जी विक्रेता,कामगार जिनका रोजगार छिन जाता हो उन्हें जरूर लॉकडाउन से फर्क पड़ता है। आज अनलॉक की समीक्षा बैठक के बाद 29 सिंतम्बर से अनलॉक का निर्णय लिया गया जो जनहित में है। भाजपा इसका विरोध कर अपनी राजनीतिक स्वार्थ साधना चाहती है जो पूर्णतः गलत है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता तिवारी ने कहा कि, देश में 56 लाख कोरोना संक्रमित एवं 85 हज़ार मौतों की संख्या के गुनाहगार भारतीय जनता पार्टी केंद्र की सरकार छत्तीसगढ़ में संक्रमण पर छाती पीटने का ढकोसला कर रहे हैं संक्रमण काल में जिस प्रकार की ओछी राजनीति भाजपा कर रही है यह प्रदेश की जनता नजदीक से देख रही है उन्हें यह मालूम होना चाहिए कि यह समय राजनीति का नहीं इस महामारी से डट कर मिलकर लड़ने का है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *