February 26, 2017

खनन प्रभावित क्षेत्रों का होगा प्रमुखता से विकास बैठक में हुआ निर्णय


खनन प्रभावित क्षेत्रों का होगा प्रमुखता से विकास
जिला खनिज संस्थान न्यास के शासी परिषद की बैठक में लिया निर्णय
जोगी एक्सप्रेस

अम्बिकापुर जिले के खनिज उत्खनन से प्रभावित ग्रामों के सर्वांगीण विकास हेतु निगमित सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत गठित जिला खनिज संस्थान न्यास की राशी का उपयोग प्रभावित क्षेत्रों में प्रमुखता से किया जाएगा। खनिज उत्खनन से आसपास के क्षेत्र भी प्रभावित होते हैं। खनिज उत्खनन एवं परिवहन से प्रभावित आसपास के क्षेत्रों में आवष्यकताओं का चिन्हांकन कर तत्सम्बन्धी विकास कार्य किए जाएंगे। यह निर्णय कलेक्टर भीम सिंह की अध्यक्षता में आज यहां कलेक्टोरेट सभाकक्ष में सम्पन्न जिला खनिज संस्थान न्यास की बैठक में लिया गया। बैठक में विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष एवं स्थानीय विधायक श्री टी.एस.सिंहदेव, जिला पंचायत की अध्यक्ष फुलेष्री सिंह सहित अन्य जनप्रतिनिधि तथा संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।
कलेक्टर भीम सिंह ने बताया कि न्यास राशी से जिले के छात्रावासों, आंगनबाड़ी केन्द्रों तथा स्कूलों में शत्-प्रतिषत गैस कनेक्षन स्थापित करने, कृषि विज्ञान केन्द्र के माध्यम से बांसाझाल में स्टार्ट-अप को बढ़ावा देने के लिए महिला हितग्राहियों को लाभान्वित करने की योजना, सभी आश्रमों में गुणवत्तायुक्त पेयजल सुनिष्चित करने के लिए जल शुद्धिकरण मषीन स्थापित करने, सभी हाई स्कूलां एवं छात्रावासों में टाईल्सयुक्त शौचालय का निर्माण, निःषक्तजनों को सहायक उपकरण प्रदाय करने की योजना, लाईव्हलीहुड कॉलेज अम्बिकापुर में प्रषिक्षुओं की सुविधा के लिए 2 करोड 50 लाख रूपये की लागत से 100 सीटर छात्रावास निर्माण तथा मझवार परिवारों की समग्र विकास के लिए विषेष कार्य योजना प्रस्तावित है।
खनिज अधिकारी सीएम शर्मा ने बताया है कि 29 करोड़ 85 लाख 56 हजार 89 रूपये जनवरी 2017 तक डीएमएफ की राषि जमा हुई है। जिसमें एसईसीएल विश्रामपुर क्षेत्र से 19 करोड़ 63 लाख 23 हजार 530 रूपये, मेसर्स राजस्थान राज्य विद्युत से 9 करोड़ 70 लाख 91 हजार 659 रूपये, मेसर्स बालको मैनपाट से 9 लाख रूपये, गौण खनिज से 26 लाख 50 हजार 266 रूपये एवं ब्याज 15 लाख 90 हजार 634 रूपये तथा कुल जिला खनिज संस्थान न्यास सरगुजा अन्तर्गत वर्ष 2016-17 में 433 कार्यो के विरूद्ध 28 करोड़ 93 लाख रूपये की स्वीकृति प्रदान की गई है।
बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी .आर एक्का, सहायक कलेक्टर नुपूर राषि पन्ना, नगर निगम आयुक्त डॉ. एल.के. सिंगरौल, स्वच्छ भारत ग्रामीण के नोडल अधिकारी माणिकचंद, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एन.के. पाण्डेय, सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।


प्रदेश प्रतिनिधि : ए, एन, अशरफ़ी छत्तीसगढ़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *