उत्तरप्रदेश : मुख्यमंत्री ने नोएडा कोविड चिकित्सालय का शुभारम्भ किया

Last Updated on

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जीने कहा कि कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत सभी प्रदेशवासियों को संक्रमण से सुरक्षित करने तथा कोरोना पॉजिटिव मरीजों का यथा समय इलाज संभव कराने के उद्देश्य से सरकार द्वारा लगातार प्रयास सुनिश्चित किए जा रहे हैं।मुख्यमंत्री जी आज सेक्टर 39,नोएडा, जनपद गौतमबुद्धनगरमें नवनिर्मित नोएडा कोविड चिकित्सालयके शुभारम्भ अवसर पर कोविड-19 महामारी,विकास कार्यक्रमों एवं कानून व्यवस्था के संबंध में आहूत एक बैठक में उद्गार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि महामारी की इस घड़ी में बिल एवं मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन तथा टाटा ट्रस्ट के सहयोग से आज इस आधुनिक कोविड अस्पताल का 25 0बेड से शुभारंभ किया गया है। इसमें 3 आई0सी0यू0 वॉर्ड बनाए गए हैं, जिनमें28 बेड की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है।

अस्पताल में 10 वेंटिलेटर की व्यवस्था है तथा दो मोबाइल वेंटिलेटर उपलब्ध हैं। मोबाइल डाइलिसिस मशीन की व्यवस्था भी इस अत्याधुनिक अस्पताल में की गई है। अस्पताल के अंतर्गत अन्य आधुनिक मशीनों की स्थापना सुनिश्चित करते हुए सुसज्जितलैब तैयार की गई है। इस कार्य के लिए मुख्यमंत्री जी ने दोनों संस्थाओं के प्रतिनिधियों के सहयोग की सराहना की। मुख्यमंत्री जी नेअपने भ्रमण के दौरान सर्वप्रथम नोएडा कोविड चिकित्सालय का शुभारम्भकिया।उन्होंने अस्पताल के आई0सी0यू0वॉर्ड, इमरजेंसी वॉर्ड,सामान्य वॉर्ड तथा अन्य व्यवस्थाओंका निरीक्षण भी किया।इसके उपरान्त अस्पताल के सभागार में मुख्यमंत्री जी द्वारा मेरठ मंडल के सभी जनपदों के नोडल अधिकारियों एवं अन्य अधिकारियों के साथ कोविड-19 महामारी, कानून व्यवस्था तथा विकास के संबंध में बैठक करते हुए अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान किए गए।उन्होंनेकहा कि कोविड-19 केदृष्टिगत सभी प्रदेशवासियों को इस महामारीसे सुरक्षित रखने तथा कोरोना संक्रमित व्यक्तियों का यथा समय इलाज संभव कराने के उद्देश्य से प्रदेश सरकार द्वारा 450 करोड़ रुपए की व्यवस्था की गई।

इसके तहत कोविड केयर फण्ड के माध्यम से प्रदेश के सभी जनपदों में कोविड अस्पतालों की स्थापना की गई है। वर्तमान में 1,51,000 बेड्सउपलब्ध हैं,ताकि संक्रमित व्यक्तियों का कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुरूप इलाज कराते हुए उन्हें स्वस्थ बनाया जा सके। मुख्यमंत्री जी नेकहा कि प्रदेश में कोरोना को लेकर पूर्व मेंएक लैब स्थापित थी।वर्तमान में 32 कोरोना टेस्टिंग लैब की स्थापना सुनिश्चित की गई है। उन्होंने कहा कि जनपद गौतमबुद्धनगर एवं गाजियाबाद कोरोना को लेकर अत्यंत संवेदनशील जनपद रहे हैं।यहां पर प्रशासन,पुलिस एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा जन सामान्य को संक्रमण से सुरक्षित करने के लिए जो प्रयास किए गए हैं,वह सराहनीय हैं। उन्होंने अधिकारियों से आगे भी इसी प्रकारकेप्रयास जारी रखने की बात कही।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोरोना के संक्रमण को समाप्त करने तथा कोरोना से नागरिकों को सुरक्षित करने के उद्देश्य से आगे भी सर्विलांस का कार्य सघनता के साथ संचालित किया जाए।उन्होंने कहा कि एन0सी0आर0के जनपदों में कोरोना से होने वाली मृत्यु की दर में कमी आयीहै,आगे भी इसी प्रकार से प्रयास जारी रखे जाएं। उन्होंने जनपद बुलंदशहर एवं बागपत में एल-3 अस्पताल की स्थापना सुनिश्चित करने के उद्देश्य से अपर मुख्य सचिव,स्वास्थ्य को आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान किए। उन्होंने कहा कि आगामी 15 दिनों के भीतरपूरे प्रदेश में कोरोना मृत्यु दर को 1 प्रतिशत से कम पर लाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए सभी अधिकारियों को और अधिक दृढ़ता के साथ प्रयास करने की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री जीने कहा कि कानून व्यवस्था और बेहतर करने के उद्देश्य से जनपद गौतमबुद्धनगर में पुलिस कमिश्नरी सिस्टम लागू होने के उपरांत जनपद में अपराधों पर अंकुश लगाने में विशेष सफलता मिलीहै।उन्होंने कहा कि अपराधियों एवं माफियाओं के विरुद्ध सख्तीके साथ प्रभावी कार्रवाईसुनिश्चित की जाए और कोई भी अपराधी जेल से बाहर न रहने पाए। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि सभी जरूरतमन्दों को खाद्यान्न की व्यवस्था निरंतरसुनिश्चित की जाए। यदि कोई पात्र लाभार्थी राशन कार्ड बनवाने से वंचित है, तोउसका राशन कार्ड बनवा कर खाद्यान्न उपलब्ध कराया जाए,ताकि इस योजना का लाभ उसेप्राप्त हो सके। उन्होंने निर्देश दिए किवर्तमान समय में प्रत्येकशनिवार एवं रविवार को विशेष स्वच्छता एवं सेनिटाइजेशन अभियान प्रभावी ढंग से संचालित किया जाए,ताकि कोविड-19 एवं संचारी रोगोंपर अंकुश लगाया जा सके।इसके लिए उन्होंने जन सामान्य में भी जागरूकता कार्यक्रम संचालित करने पर बल दिया।

इस अवसर पर मंडलायुक्त श्रीमती अनीता सी0मेश्राम ने मुख्यमंत्री जी कोकोविड-19 के सम्बन्ध में मंडल के सभी जनपदोंमें की जा रही कार्यवाही से अवगत कराया। जिलाधिकारीश्री सुहास एल0 वाई0 ने बैठक समापन के अवसर पर सभी का धन्यवाद ज्ञापित करतेहुए मुख्यमंत्री जी को आश्वस्त किया कि उनके द्वारा जो निर्देश दिए गए हैं उनका अनुपालन सुनिश्चित किया जाएगा। बैठक के बाद मुख्यमंत्री जी ने सेक्टर 59,नोएडा में जिला प्रशासन के द्वारा कोविड-19 को लेकर बनाए गए इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया। बैठक के दौरानपूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ0महेश शर्मा, स्वास्थ्य राज्यमंत्री श्री अतुल गर्ग एवंअन्य जनप्रतिनिधिगण सहित अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्रीअमित मोहन प्रसाद, अध्यक्ष नोएडा विकास प्राधिकरण श्री आलोक टंडन, मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री नरेंद्र भूषणतथा सभी जनपदोंके कोविड-19 के नोडल अधिकारीगण एवं अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *