जिले में आईसीयू तथा आक्सीजन युक्त बिस्तरों की व्यवस्था विकसित करें – कमिश्नर

Last Updated on

मो.शब्बीर ब्यूरो चीफ शहडोल

शहडोल 30 जुलाई 2020 – कमिश्नर शहडोल संभाग नरेश पाल ने कलेक्ट्रेट सभागार में कोरोना संक्रमण से निपटने हेतु जिले मे की गई व्यवस्थाओं , उर्वरक की उपलब्धता, खाद बीज एवं कीटनाशकों के नमूनें लेने तथा उनकी प्रामणिकता की जांच, वनाधिकार अधिनियम, राजस्व अभियान तथा एसईसीएल एवं ताप विद्युत केद्र से संबंधित समस्याओं की जानकारी ली तथा उनके निराकरण के निर्देश दिए। बैठक में कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत अंशुल गुप्ता, अपर कलेक्टर अशोक ओहरी, उपायुक्त राजस्व दिलीप पाण्डेय, एसडीएम बांधवगढ अनुराग सिंह, मानपुर सिद्धार्थ पटेल, पाली नेहा सोनी , महाप्रबंधक एसईसीएल, ताप विद्युत केंद्र के अधिकारी , मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा राजेश श्रीवास्तव , सहायक आयुक्त आदिवासी विकास आनंद राय सिन्हां, उप संचालक कृषि आर के प्रजापति तथा डी पीएम अनिल सिंह उपस्थित रहे।
आयुक्त शहडोल संभाग ने कोरोना संक्रमण की समीक्षा करते हुए कहा कि जिले में बनाये गये कटनी एवं जबलपुर मार्ग में नाकों में आने जाने वाले यात्रियों की जांच की जाए तथा दैनिक रिपोर्ट गूगल सीट में प्रेषित की जाए। आपने कहा कि जिले में आईसीयू तथा आक्सीजन युक्त बिस्तरों की व्यवस्था तथा और अधिक आइसोलेशन सेंटर चिन्हित कर क्षमता वृद्धि की जाए। आवश्यकता पडने पर मेडिकल कालेज शहडोल के माध्यम से भी सेंपल जांच कराए। इसके साथ ही ताप विद्युत केंद्र मंगठार तथा एसई सीएल नौरोजाबाद में आक्सीजन सपोटेड बेड तैयार किए जाए।
आयुक्त श्री पाल ने जिले में रासायनिक उर्वरक के उपलब्धता की जानकारी लेते हुए कहा कि वितरण केंद्रों में पर्याप्त मात्रा में यूरिया उपलब्ध कराई जाए। साथ ही खाद, बीज तथा कीटनाशकों के सेंपल लिए जाये। सेंपल अमानक पाए जानें पर संबंधित डीलरों के विरूद्ध एफआईआर कराई जाए। आपने राजस्व नामांतरण एवं बंटवारा अभियान की समीक्षा करते हुए उसे गति प्रदान करनें के निर्देश दिए। इसी तरह वन अधिकार अधिनियम के तहत निरस्त दावों का त्वरित निराकरण करनें के निर्देश दिए। आयुक्त ने एसईसीएल के भूमि अधिग्रहण की समस्यां का निराकरण करनें के निर्देश संबंधित एसडीएम को दिए। उन्होनें महाप्रबंधक एसईसीएल को निर्देशित किया कि स्थानीय लोगों को रोजगार दिया जाए विशेष कर जिन लोगो की जमीन अधिग्रहित की गई है उन्हें नौकरी मेें प्राथमिकता दी जाए। कालरियों में आईटी आई प्रशिक्षित युवकों के जाब के बेहतर अवसर रहते है । एसईसीएल के अधिकारी जिले के आईटीआई से संपर्क कर अपनी आवश्यकतानुसा उनके प्रशिक्षण की व्यवस्था सुनिश्चित करे।
कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने बताया कि जिले में जिला चिकित्सालय में आईसीयू के दस बेड तथा आक्सीजन युक्त 20 बेड के निर्माण का कार्य शीघ्र ही पूरा होेने वाला है। इसी तरह एसईसीएल नौरोजाबाद के चिकित्सालय मेें 20बेड तथा ताप विद्युत केंद्र मंगठार में 10 बिस्तर वाले आक्सीजन युक्त व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए है। जिले मे दो चेक पोस्ट बनाए गए है जहां जबलपुर एवं कटनी मार्ग से आने वाले यात्रियों की कोरोना ंसक्रमण की प्रारंभिक जांच की जा रही है। वर्तमान में जिले में यूरिया की खेप उपलब्ध हो गई है जिसे वितरण केंद्रों में भण्डारित करा दिया गया है। कलेक्टर ने एसईसीएल एवं ताप विद्युत केंद्र के भूमि अधिग्रहण संबंधी समस्याओं का शीघ्र निराकरण करनें तथा स्थानीय लोगो को रोजगार देने की बात उनके प्रबंधको से कही। साथ ही नौरोजाबाद एवं मंगठार में पेड क्वारेंटाईन सेंटर संचालित करने ंके निर्देश संबंधित अधिकारियो को दिए । बैठक में डीपीएम अनिल सिंह ने कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु जिले में अब तक किए गए प्रयासों तथा आगे की रणनीति का पावर प्वाइंट प्रस्तुतीकरण दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *