चंद्रग्रहण : किसको होगा फ़ायदा किसको नुक्सान

Last Updated on

5 जून शुक्रवार को इस साल का दूसरा चन्द्र ग्रहण पड़ने वाला है. इसका ग्रहण काल रात 11 बजकर 16 मिनट से 2 बजकर 34 मिनट तक रहेगा. चन्द्रमा को ज्योतिष में मन का स्वामी मन जाता है और ऐसे में सभी राशियों पर इसका अलग अलग असर पड़ेगा. ज्योतिशो की माने तो 5 जून को होने वाले ग्रहण का प्रभाव मेष, वृषभ, सिंह, कन्या, तुला, मकर, कुंभ और मीन राशि के जातकों पर सबसे ज्यादा होगा. आइये जानते है जिस राशी पर क्या असर हो सकता है : –

मेष- मेष राशि वालों के 8वें घर में ये चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है. 8वां घर धन से जुड़ा होता है. ऐसे में आपको रुपये-पैसे के मामले में दिक्कत होंगी. धन की वापसी में भी दिक्कतें बढ़ेंगी. यदि किसी को कर्ज देने वाले हैं तो सोच समझकर ही फैसला लें. किसी भी कार्य में हाथ डालने से पहले पार्टनर की सलाह जरूर लें. आपकी मुश्किलें आसान हो सकती हैं. खीर का दान आपके लिए बेहद कल्याणकारी हो सकता है.

वृषभ- इस ग्रहण का असर आपके व्यापार पर पड़ सकता है. आर्थिक नुकसान होने के योग बन रहे हैं. सेहत का भी खास ध्यान रखने की जरूरत है. खान-पान को लेकर सतर्कता बरतें. वैवाहिक जीवन में मुश्किलें बढ़ सकती हैं या पार्टनर के साथ आपके मतभेद हो सकते हैं. बैंक से लोन या या उधार के पैसों का लेन-देन मुश्किलें पैदा कर सकता है. करीबियों के साथ वाद-विवाद होने से संबंध खराब हो सकते हैं. शिवलिंग पर जल चढ़ाने से आपको लाभ होगा.

मिथुन- मिथुन राशि के जातकों के लिए इस ग्रहण को शुभ माना जा रहा है. राशि के छठे घर में यह ग्रहण लगेगा. आप रोग मुक्त होंगे और तमाम तरह की परेशानियां, चिंताएं दूर होंगी. धन के लेन-देन में सावधानी बरतने की आवश्यकता है. जो लोग अच्छे परिणामों को लेकर प्रतीक्षा कर रहे हैं उन्हें अभी थोड़ा और समय संघर्ष करना पड़ सकता है. मां के चरण छूकर उनका आशीर्वाद लेने से आपके बिगड़े काम संवरेंगे.

कर्क- कर्क राशि के 5वें घर में ग्रहण लगेगा. प्रेम संबंधों में दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा. परेशानियां बढ़ सकती हैं. संतान से जुड़ी समस्याएं होंगी. करियर या पढ़ाई लिखाई करने वाले विद्यार्थियों के लिए भी यह समयावधि सही नहीं है. घर में भाई-बहन के साथ विवाद न बढ़ाएं. इससे आपको ही ज्यादा नुकसान हो सकता है. घर में पारद शिवलिंग लेकर आने से सब सही हो सकता है. ग्रहण के बाद चावल का दान करने से विशेष लाभ होगा.

सिंह- सिंह राशि के जातकों के चौथे घर में चंद्र ग्रहण लगेगा. इस ग्रहण का असर घर के सदस्यों पर पड़ सकता है. खासतौर पर मां के स्वास्थ्य की चिंता करने की जरूरत है. परिवार के सदस्यों के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी बढ़ सकती है. किसी बाहरी व्यक्ति पर आंख मूंदकर विश्वास करना से समस्याएं बढ़ेंगी. सेहत के मामले में भी यह समय आपके लिए अच्छा नहीं है. पारद गणेश घर लाने से चिंताएं दूर होंगी.

कन्या- कन्या राशि के तीसरे घर में चंद्र ग्रहण लगेगा. आपकी यात्राएं स्थगित होंगी. आप चाहकर भी लाभ से जुड़ी यात्राएं नहीं कर पाएंगे. आपके निजी जीवन पर भी असर बुरा असर देखने को मिल सकता है. व्यापार और पार्टनरशिप के मामले में भी दिक्कतें बढ़ सकती हैं. इसके अलावा आपके कार्यक्षेत्र में बाधाएं और सीनियर्स से वाद-विवाद बढ़ सकते हैं. पारद शिवलिंग की पूजा करें और हल्दी का दान जरूर करें.

तुला- तुला राशि वालों के दूसरे घर में यह ग्रहण लगने जा रहा है. इस दौरान धन की समस्या आपको घेरकर रखेगी. कर्ज देने से बचें. पैसा वापस आने की संभावनाएं बहुत कम है या उसके वापस आने में कष्ट हो सकता है. इसलिए लोगों को कर्ज देने से फौरन किनारा कर लें. माता-पिता या ससुराल पक्ष के साथ संबंध बेहतर स्थापित करने का प्रयास करने से लाभ होगा. भगवान शिव की आराधना करें और ‘ओम नम: शिवाय मंत्र का जाप करें.’

वृश्चिक- 5 जून को होने वाला चंद्र ग्रहण वृश्चिक राशि में ही लगने जा रहा है. उपछाया ग्रहण होने की वजह से आपको बहुत ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है. मानसिक तनाव बढ़ सकता है. घर में झगड़े बढ़ सकते हैं. प्रॉपर्टी आदि के मामले में निवेश करने से पहले शुभचिंतकों की राय जरूर लें. भगवान शिव की पूजा करें और शिवलिंग पर पंचमुखी रूद्राक्ष चढ़ाएं. ऐसा करने से आपके जीवन में चल रहे संकटों से मुक्ति मिलेगी.

धनु- धनु राशि के 12वें घर में यह ग्रहण लगने जा रहा है. ग्रहण का समय इस राशि के जातकों लिए बेहद चुनौतीपूर्ण रहेगा. इस दौरान सोच-समझकर निर्णय लें. प्रॉपर्टी, घर, मकान या वाहन से जुड़े फैसले लेने का यह सही समय नहीं हैं. अनायास खर्चों में भी बढ़ोतरी हो सकती है. वैवाहिक जीवन में जीवनसाथी से मनमुटाव भी हो सकता है. इस दौरान कच्चे दूध का दान करें और महा मृत्युंजय मंत्र का जाप करें.

मकर- मकर राशि के 11वें घर में ग्रहण लगने जा रहा है. मित्रों के हाथों आपको धोखाधड़ी, जालसाजी या षड़यंत्र का शिकार होना पड़ सकता है. ग्रहण के असर से आपको आर्थिक नुकसान हो सकता है. करियर के मामले में भी झटका लग सकता है. ‘ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः’ मंत्र का जाप करने से आपको फायदा हो सकता है.

कुंभ- कुंभ राशि के 10वें घर में यह ग्रहण होगा. इस दौरान आपको व्यापार में नुकसान हो सकता है. काम-धंधे में दिक्कतें आ सकती हैं. शत्रु पक्ष हावी रहेगा. सेहत के मामले में भी यह ग्रहण अच्छा नहीं है. परिजनों की सेहत गड़बड़ हो सकती है. उनका ख्याल रखें. इस दौरान सड़क पर वाहन चलाते वक्त बेहद सावधान रहने की जरूरत है. संतान की सेहत पर भी विशेष ध्यान दें. गेंहू का दान करें और ग्रहण काल के बाद स्नान जरूर करें.

मीन- मीन राशि के 9वें घर में यह ग्रहण लगने जा रहा है. इस ग्रहण के कारण आपको भाग्य का बिल्कुल साथ नहीं मिलेगा. मेहनत या कोशिश करने से भी कामयाबी मिलना मुश्किल है. दुर्घटनाओं के योग भी बन रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *