किंग ने बहन को सौंपा अहम पद, अंतर्राष्ट्रीय समुदाय चिंतित

Last Updated on

प्योंगयांग: अमरीका के साथ तनाव के चलते उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन ने एक बड़ा कदम उठाते अपनी बहन को सत्तारूढ़ पार्टी में एक वरिष्ठ पद सौंपा और देश के परमाणु हथियार कार्यक्रम की तारीफ की जिससे अंतर्राष्ट्रीय समुदाय चिंतित  हो गया है।  किम जोंग ने अपनी बहन किम यो-जोंग का प्रमोशन कर पोलित ब्यूरो का सदस्य बनाया है, जिसके पास देश के सभी महत्वपूर्ण निर्णय लेने का अधिकार है। किम यो के इस प्रमोशन के यही मायने निकाले जा रहे हैं कि अब वह किम जोंग-उन की चाची, किम क्योंग ही की जगह लेंगी, जो पूर्व नेता किम जोंग-इल के जिंदा रहने तक मुख्य निर्णायक थीं। जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी की 38 नॉर्थ वेबसाइट में उत्तर कोरिया के विशेषज्ञ माइकल मैडन ने कहा, ‘किम यो के प्रमोशन से साफ उनके परिवार की ताकत और बढ़ेगी।
इसी साल जनवरी में यूएस ट्रेज़री ने किम यो-जोंग को कुछ अन्य उत्तर कोरियाई अधिकारियों के साथ ही मानवाधिकारों के हनन को लेकर ब्लैकलिस्ट किया था। किम की बहन के अलावा रॉकेट प्रोग्राम के पीछे सबसे अहम भूमिका निभाने वाले किम जोंग सिक और री प्योंग चोल का भी प्रमोशन किया गया है। अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप को दुष्ट बताने वाले उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री री योंग हो को भी पोलित ब्यूरो में अहम जिम्मेदारी दी गई है। पोलित ब्यूरो नीति निर्धारक निकाय है और जोंग-उन उसकी अध्यक्षता करते हैं। शनिवार को पार्टी की बैठक में बीसियों अन्य शीर्ष अधिकारियों की घोषणा हुई। यो-जोंग की पदोन्नति की घोषणा भी इसी में हुई।

साभार :पंजाब केसरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *