मामला दर्ज कराकर भाजपा को ललकारा है, हम चुप बैठने वाले नहीं : पूर्व सीएम

सागर
किसानों के हित की लड़ाई में साथ देने वाले नरयावली क्षेत्र के विधायक और भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष प्रदीप लारिया पर काग्रेंस सरकार के इशारे पर मामला दर्ज कर सिर्फ उनके उपर ही उंगली नहीं उठाई बल्कि भाजपा को ललकारा है इस सरकार में अन्याय की अति हो गई। चारों तरफ त्राही त्राही मची है। संबल योजना बंद, डिलेवरी का पैसा बंद, छात्र-छात्राओं को लेपटाप बंद, स्मार्ट मोबाईल बंद, साईकिल वितरण बंद, तीर्थ दर्शन यात्रा बंद यहां तक की बहनो ंको दिया जाने वाला डिलेवरी का पैसा भी बंद, इस निकम्बी सरकार में हो गया है। यह बात   म.प्र. के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने किसानों को यूरिया खाद्य वितरण में अव्यवस्था और नरयावली विधायक प्रदीप लारिया के उपर काग्रेंस के इशारे पर दर्ज किये गये मामले को लेकर भाजपा द्वारा किये गये प्रदर्शन कार्यक्रम के दौरान सभा को संबोधित करते हुये कही। उन्होनें यूरिया खाद्य वितरण की बात करते हुये कहा कि भाजपा सरकार में एक साल पहले योजना बना ली जाती थी और किसानों की बोनी के तीन माह पहले उन्हें यूरिया खाद्य वितरण कर दिया जाता था।

आज प्रदेश भर में जगह-जगह खाद्य के लिए लाईने लगी है यहां तक की बहनों को भी लाईन में लगना पड़ रहा है। कमलनाथ की ऐसी निकम्बी सरकार को एक मिनिटि भी सरकार में रहने का हक नहीं है। उन्होनें कहा कि हमारे विधायकों पर मामले दर्ज कराकर उन्हें अयोग्य घोषित करने की काग्रेंस सरकार की योजना है। उनके मंसूबों को पूरा नहीं होने देगें और सड़को पर संघर्ष करेगें। उन्होने सख्त लहजे में कहा कि कमलनाथ हमें डराने का काम छोड़ दे। हम इमरजेंशी के दौरान इंदिरा गांधी ने नही डरे कमलनाथ किस खेत की मूली है। यदि प्रदेश का किसान परेशान हुआ तो हम मंत्रियों का सड़कों पर से निकलना बंद कर देगें। नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने किसानों से यह नारा लगवाते हुये जब तक दुखी किसान रहेगा, धरती पर तूफान रहेगा। कहा कि किसानों के हित में बात करने वाले हमारी पार्टी के विधायक प्रदीप लारिया पर काग्रेंस के इशारे पर मामला दर्ज किया गया है। आज हम प्रदर्शन कर गिरफ्तारी देने जा रहे है हम भी देखने आये है कि जेलो में कितनी जगह है और कितनी उंची जेले है। उन्होनें सरकार को ललकारते हुये कहा कि इस सरकार ने एक साल में ट्रांसफरों के आलावा कोई काम नहीं किया। न ही अपने घोषणा पत्र की एक भी घोषणा पूरी की है। यदि वचन पत्र में शामिल एक भी वादा जो इस सरकार ने पूरा किया हो तो बता दे, तो मैं राजनीति से सन्यास ले लूगा। चुनाव में वोटों को लूटने के बाद इस सरकार ने सिर्फ ठगने का काम किया है।

आज पूरे प्रदेश में किसान परेशान है। यूरिया खाद्य के मामले में ब्लेक मेलरों की बल्ले बल्ले हो रही है और यह सरकार पूरी तरह कुंभकर्णीय नीद में सो रही है। सागर सांसद राजबहादुर सिंह ने कहा कि भाजपा पहले भी किसानों के साथ थी और आज भी किसानों के साथ खड़ी है आज बोनी का समय है और किसानों को खाद्य नहीं मिल पा रहा है। किसानों का साथ देने वाले भाजपा विधायक प्रदीप लारिया पर प्रकरण दर्ज किया गया। काग्रेंस के कू प्रबंधन के कारण आज हम आंदोलन करने को बाध्य है। विधायक प्रदीप लारिया ने कहा कि आज भी प्रदेश की जनता शिवराज सिंह जी को याद कर रही है। कागें्रस सरकार ने जो वचन पत्र तैयार किया था पहला वचन 10 दिन में किसानों का कर्जा माफ करने का था। आज कर्ज माफी तो दूर की बात किसानों को एक एक बोरी यूरिया के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। कर्ज माफी के चक्कर में किसान डिफाल्टर हो चले है। आज सिर्फ किसानों की आंखों में आसूंओं के अलावा और कुछ नहीं है। उन्होनें किसानों से ऐसी निकम्बी सरकार को उखाड़ फेकने का आव्हान किया। उन्होनें कहा कि आज जब सरकार को पता चला कि भाजपा यूरिया खाद्य संकट को लेकर गिरफ्तारियां देकर जेल भरने वाली है। तो प्रशासन ने मेरे विधानसभा क्षेत्र में सोसायटियों में आनन फानन में इसलिए यूरिया खाद्य भेज दिया जिससे किसान कार्यक्रम में न आ पाये। लेकिन इस कार्यक्रम में हजारों की संख्या में बैठे किसान यह बता रहे है कि वह कितने पीड़ित है।

कार्यक्रम को पूर्व भाजपा जिला अध्यक्ष जाहर सिंह, राजकुमार बरकोटी, उमेश केवलारी, हरिराम सिंह ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में पूर्व गृह मंत्री भूपेन्द्र सिंह, पूर्व लोक निर्माण विभाग मंत्री रामपाल सिंह, विधायक शैलेन्द्र जैन, विधायक महेश राय, पूर्व विधायक सुधा जैन, पूर्व विधायक हरवंश सिंह, पूर्व विधायक भानू राणा, पूर्व विधायक पारूल साहू, पूर्व मंत्री नारायण कबीरपंथी, भाजपा जिला अध्यक्ष प्रभुदयाल पटैल, मकरोनिया नगर पालिका अध्यक्ष सुशीला संतोष रोहित, राजेन्द्र सिंह मोकलपुर, सुशील तिवारी, जिला पंचायत उपाध्यक्ष तृप्ति सिंह सहित हजारों की संख्या में नरयावली विधानसभा किसान मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *