November 9, 2019

अयोध्या केस : भड़काऊ मैसेज फॉरवर्ड किया तो होगा मुकदमा दर्ज

Last Updated on

 लखनऊ                                                                                                          
लखनऊ एसएसपी कलानिधि नैथानी ने सोशल मीडिया पर किसी भी तरह की टिप्पणी डालने वालों के लिए विशेष एडवाइजरी जारी की है। जो भी व्यक्ति आपत्तिजनक सामग्री (लेख, फोटो, वीडियो आदि) व्हाट्सएप ग्रुप, फेसबुक या अन्य प्लेटफॉर्म पर डालेगा या बिना सोचे समझे आगे बढ़ाएगा, उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगा।

ग्रुप के एडमिन को विशेष ध्यान देना होगा कि उसके ग्रुप पर कोई भी आपत्तिजनक सामग्री प्रसारित न हो। ऐसा करने वालों के बारे में पुलिस को तत्काल सूचना देनी होगी। ऐसा न करने पर ग्रुप एडमिन पर भी मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

व्हाटसएप ग्रुप में केवल एडमिन करेगा मैसेज
पुलिस की चेतावनी को देखते व्हाटसएप ग्रुप पर विशेष सावधानी बरती जा रही है। शुक्रवार की रात कई ग्रुपों में मेम्बर के मैसेज भेजने पर एडमिन ने रोक लगा दी। एप में दिये गये विशेष फीचर का इस्तेमाल किया गया। ग्रुप में केवल एडमिन को ही मैसेज की इजाजत होती है। एडमिन ने मेम्बर्स को मैसेज भेज कर इस बारे में सूचित भी किया।

मेरठ, अलीगढ़, मुरादाबाद सहित कई जिले संवेदनशील
डीजीपी ने बताया कि 21 जिलों की सूची में मेरठ, मुरादाबाद, मुजफ्फरनगर, अलीगढ़, बनारस, प्रयागराज, कानपुर, गोरखपुर, आगरा आदि जिले शामिल हैं। इन जिलों में पैरामिलिट्री फोर्स, पीएसी, आरआरएफ, आरएएफ तैनात की जाएगी।

11 नंवबर तक बंद रहेंगे स्कूल
उत्तर प्रदेश सरकार ने 9 नवंबर से 11 नंवबर तक राज्य में सभी सरकारी व प्राइवेट स्कूल कॉलेज व ट्रेनिंग संस्थान बंद रखने के निर्देश दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *