आईएनएस विराट पर छुट्टी मनाने नहीं गए थे राजीव गांधी: पूर्व कमांडिंग ऑफिसर

Last Updated on

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पर युद्धपोत आईएनएस विराट को लेकर सनसनीखेज आरोप लगाए जाने के बाद पूर्व एडमिरल एल रामदास (सेवानिवृत) ने इन दावों का खंडन किया है। पीएम के आरोपों पर एडमिरल रामदास ने कहा कि राजीव गांधी ने कभी भी आईएनएस विराट पर छुट्टी नहीं मनाई।

पीएम मोदी के इन दावों को नौसेना के पूर्व प्रमुख समेत चार पूर्व अधिकारियों ने भी खारिज किया है। एडमिरल रामदास ने साफ किया है कि उस वक्त राजीव गांधी एक आधिकारिक दौरे पर थे और उनके साथ कोई दोस्त या विदेशी मौजूद नहीं था।

वाइस एडमिरल (सेवानिवृत्त) और आईएनएस विराट के तत्कालीन कमांडिंग ऑफिसर विनोद पसरीचा ने कहा है कि राजीव गांधी उस दौरान एक आधिकारिक दौरे पर थे और कोई पिकनिक नहीं मना रहे थे।

बता दें कि बुधवार को दिल्ली के रामलीला मैदान से चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि जो लोग आज कह रहे हैं कि सेना किसी की जागीर नहीं है, उसी परिवार के लोगों ने आईएनएस विराट को प्राइवेट टैक्सी की तरह इस्तेमाल किया था।

पीएम मोदी ने कहा था कि आईएनएस विराट समुद्र की रखवाली के लिए तैनात था, लेकिन उसका इस्तेमाल राजीव गांधी, उनके परिवार और ससुरालवालों को एक द्वीप पर छुट्टियों के लिए ले जाने के लिए किया गया। पूरे कुनबे को लेकर आईएनएस विराट खास द्वीप पर 10 दिन तक रुका रहा। इतना ही नहीं, नौसेना के जवानों व एक हेलीकॉप्टर को भी उनकी सेवा में लगाया गया। क्या विदेशी लोगों को युद्धपोत पर ले जाकर देश की सुरक्षा से खिलवाड़ नहीं किया था?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed