वसूली में व्यस्त यातायात विभाग, मुख्यालय में दौड़ रहे बेखौफ ओव्हरलोड वाहन

Last Updated on

जोगी एक्सप्रेस मध्यप्रदेश 

अनूपपुर।म.प्र , शासन ने सभी को हेलमेट अनिवार्य कर दिया है लेकिन जिला मुख्यालय सहित आसपास के क्षेत्रो में खाकी के साथ आमजन भी बिना हेलमेट के दोपहिया वाहन चलाते नजर आ रहे है। ऐसे ही दो पुलिस कर्मी कोतवाली के समीप कैमरे के सामने खुलेआम यातायात नियमों का माखौल उडाते हुये कैमरे में कैद हुये जिनके लिए हेलमेट जरूरी नजर नहीं आ रहा है। जबकि इन दो पुलिसकर्मियों में एक पुलिस कर्मी तत्कालीन यातायात का प्रभार संभाल चुके है लेकिन जिले के ही अन्यत्र जगह पदस्थापना मिलने के बाद लगता है इनको जागरूकता का पाठ खुद भूल सा गया है तभी तो नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए इनके द्वारा खुलेआम बिना हेलमेट के दोपहिया वाहन को दौड़ाया जा रहा है। वहीं ऐसा हाल जिले के अधिकांश पुलिस कर्मियों का है ऐसे में जिले का यातायात विभाग पुलिस कर्मियों सहित आमजन को नसीहत देने में नाकामयाब साबित हो रहा है। जिले की यातायात विभाग इन दिनों चालानी कार्यवाही की जगह अपनी जेब गरम करने में लगा हुआ है विभाग की सुस्त प्रणाली के कारण यातायात जागरूकता अभियान भी नहीं चलाया जा रहा है। जबकि शासन द्वारा प्रत्येक वर्ष यातायात जागरूकता, नुक्कड़ नाटक और बैनर पोस्टर के लिए राशि भी आवंटित की जाती है। लेकिन यातायात प्रभारी के सुस्त रवैया के कारण यातायात जागरूकता जिले में शून्य दिखाई पड़ रहा है और पुलिसकर्मी ही बिना हेलमेट के वाहन दौड़ा रहे है। 

ओव्हरलोड वाहन से अवैध वसूली

जिले के जैतहरी में मोजर बेयर प्लंाट, चचाई में अमरकंटक थर्मल पॉवर प्लांट स्थापित है  यहां प्रतिदिन दर्जनों ट्रक ओव्हरलोड राखड़ का परिवहन कर रहे है लेकिन यातायात प्रभारी की वसूली के आगे इन वाहनों पर कार्यवाही नहीं हो पा रहा है। जिससे ओव्हरलोड वाहन धड़ल्ले से सड़को पर दौड़ रहा है तो वहीं दूसरी तरफ ओव्हर लोड वाहनों के चलने से सड़क के परखच्चे उड़ रहे है। जिस पर लगाम लगाना आवश्यक है।

दो और तीन का चल रहा खेल

जब से यातायात प्रभारी ने यातायात का कमान संभाला है तब से पूरे शहर में दो और तीन की चर्चा जोरों पर है क्योंकि प्रभारी ने यहां दो और तीन के माध्यम से छोटे-बड़े का हिसाब कर रखा है ऐसे में उनका दो और तीन का हिसाब कब तक काम आता है यह तो वक्त ही बतायेगा। कुल मिलाकर साहब के संरक्षण में अधीनस्थ कर्मी खुलेआम वसूली कर रहे है।

जनता पर चल रहा डंडा

पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में यातायात कानून के तहत पूरे जिले में जांच अभियान जारी है जिसके तहत जिले के सभी थानों के अलावा कोयलांचल के थानों में भी सघन जाँच अभियान चलाया जा रहा है पर स्थानीय निवासियों की माने तो इस कानून के तहत आम राहगीर जनता पर पुलिस कानून का डंडा तो चला रही है पर इस कानून का एक भी डंडा किसी पुलिस कर्मी पर नही चला है जबकि जिला मुख्यालय के अधिकांश पुलिस वाले यातायात कानून का पालन करवाते तो नजर आते है पर यह कानून इनपे लागू होता है इनका आचरण देख कर नही लगता है यह कहना गलत नही होगा की आम आदमी को डंडा और साहब को ठंडा पिलाया जा रहा है।

क्या होगी कार्यवाही

पुलिस अधिक्षक सुनील जैन के निर्देशो से यह लगने लगा था की जिले के दबंग रूपी इन पुलिस कर्मियों से यातायात नियमों का पालन कराया जा सकेगा पर लगता नहीं है कि इन पुलिस कर्मियों पर पुलिस अधीक्षक के फरमान का कोई असर हुआ हो तभी तो खुलेआम कोतवाली थाना के सामने यातायात नियमों का माखौल उडाते यह पुलिस कर्मी जिला मुख्यालय के सडकों और चौराहों पर नजर आते है और इन पर कोई कार्यवाही नही होती देखना यह है कि क्या पुलिस अधीक्षक सुनील जैन इन पर विभागीय कार्यवाही कर जनता को यह विश्वास दिलाने में सफल होते है की नही, और कानून की नजर में कोतवाल और आम जनता दोनो बराबर है।

इनका कहना है…..

जल्द ही ओव्हरलोड वाहनों पर कार्यवाही के लिए यातायात प्रभारी को निर्देशित किया जायेगा।
सुनील जैन
पुलिस अधीक्षक,अनूपपुर
हमारे द्वारा पुलिस कर्मियों को हमेशा हेलमेट लगाने की समझाईश दी जाती है और हमनें पिछले माह 1 लाख रूपये की चालानी कार्यवाही भी किया है। जो पूर्व माह के अपेक्षा अधिक है।
बृजेन्द्र मिश्रा
यातायात प्रभारी, अनूपपुर
भानू प्रताप साहू
जोगी एक्सप्रेस 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *