February 1, 2017

फर्जी दस्तावेज तैयार कर गरीबों के 12 प्लॉट पर भूपेश ने बनवाया अपना बंगला-जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे)

फर्जी दस्तावेज तैयार कर गरीबों के 12 प्लॉट पर भूपेश ने बनवाया अपना बंगला-जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे)

विधान मिश्रा, विधायक राय, इकबाल अहमद रिजनी ने मुख्यमंत्री से लिखित शिकायत कर मामले में जुर्म दर्ज कर कार्यवाही की मांग की
जोगी एक्सप्रेस
रायपुर । जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जोगी) पार्टी के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री विधान मिश्रा, विधायक आर.के. राय और पार्टी के प्रवक्ता इकबाल अहमद रिजवी ने आज प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भूपेश बघेल पर गरीबों के हिस्सों के 12 प्लॉट को फर्जी दस्तावेजों के जरिए प्राप्त कर वहां अपना बंगला तैयार करने का आरोप लगाते हुए इसकी लिखित शिकायत मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह से की है। साथ ही इस मामले की जांच कराकर बेनामी संपत्ति को राजसात कर उनके खिलाफ अपराधिक प्रकरण दर्ज करने की भी मांग की है।
जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के अध्यक्ष अजीत जोगी के रायपुर स्थित अनुग्रह बंगले में आज श्री मिश्रा, श्री राय और श्री रिजवी ने संयुक्त रूप से प्रेसवार्ता ली। उन्होंने कहा कि साडा भिलाई में भूपेश बघेल की धर्मपत्नी और मां ने 31-3-1995 को वसुंधरा नगर उत्तर आवासीय योजना भिलाई -3 में 15 बाई 24 के 360 वर्गमीटर के दो प्लाट के आबंटन के लिए आवेदन किया था। लेकिन वहां बड़े आकार के प्लाट न होने के कारण उससे लगे हुए मानसरोवर आवासीय योजना में आवेदन को स्थानांतरित कर दिया गया, ये योजना गरीबों और आर्थिक रूप में कमजोर मध्यम वर्ग के लिए थी। मानसरोवर आवासीय योजना के तहत यहां श्री बघेल की धर्मपत्नी और मां को 6-6 प्लाट 94 रूपये वर्गमीटर की दर से आबंटित किए गए थे। छोटे-छोटे 12 प्लाट को आबंटित कराने के बाद श्री बघेल ने अपने विधायक रहते प्रभावों का दुरूपयोग कर 12 प्लाट को 756 वर्गमीटर का एक प्लाट बनाकर इस पर बंगला बनवा लिया। उन्होंने कहा कि यह बंगला योजना और मास्टर प्लान के विपरीत अवैध रूप से बना है। उन्होंने कहा कि उक्त प्लाट का संविलियन करने के लिए श्री बघेल की धर्मपत्नी और मां द्वारा झुठा शपथ पत्र दिया था। तीनों नेताओं ने बताया कि इस मामले में उनके द्वारा मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह से लिखित शिकायत की गई है और छग निर्विदिष्ट भ्रष्ट निवारण अधिनियम 1982 की धारा 32 के ख,ग व ध के तहत जुर्म कायम कर कार्यवाही किए जाने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *