अजीत जोगी पहुॅचे रेल्वे स्टेशन पार्किंग, जी.आर.पी. से किया सवाल

Last Updated on

 जोगी एक्सप्रेस 

रायपुर  आज दोपहर 12 बजे रायपुर रेल्वे स्टेशन पार्किंग में हुई आगजनी के कारण अनेक मोटर साइकल वाहन स्वामी रायपुर स्थित जोगी निवास पर आकर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के संस्थापक अध्यक्ष  अजीत जोगी से मिलकर अपनी आपबीती सुनाई एवं बताया कि घटना के 48 घण्टे बाद भी रल्वे प्रशासन लोगों को गुमराह कर रहा है एवं मुआवजा नहीं देने के उददेश्य से जी.आर.पी. घटना पर एफ.आई.आर. (प्रथम प्राथमिकी रिपोर्ट) दर्ज करने तैयार नहीं है। निम्नवर्गीय एवं निम्नमध्यम वर्गीय परिवार से जुड़े ये लोग ने कहा कि वे छोटी-छोटी पूूजी जमा कर फाइनेस के माध्यम से ये गाड़ीयां खरीदी थी एवं मुआवजा नहीं मिलने के कारण वे बेहद आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है, वे  जोगी से उक्त घटना में हस्तक्षेप का अनुरोध कर रहे थे। श्री अजीत जोगी ने उनका दुखड़ा सुनकर सीधे रेल्वे स्टेशन पार्किंग स्थल पहुंचे। उन्होंने जले हुए गाड़ीयों का मुआयना भी किया एवं जी आर पी के पुलिस अधीक्षक पारूल माथुर से घटना दिनांक से आज तक किये गये कार्यवाही की जानकारी  मांगी। इस दौरान  जोगी ने उक्त आगजनी घटना को दुर्भाग्यपूर्ण माना तथा जी.आर.पी. से आगामी कार्यवाही की जानकारी चाही। पारूल माथुर ने  अजीत जोगी को जानकारी दी की उक्त घटना में 236 गाड़ियां पूर्णतयः जल गई है जिसमें से 136 वाहन स्वामी ने अपनी गाड़ी जलने का आवेदन  जी आर पी में जमा किया है।  जोगी के निर्देश के बाद पारूल माथुर ने  आश्वस्त किया है कि कल तक सम्पूर्ण गाड़ियों का एफ आई आर दर्ज कर लिया जायेगा एवं समस्त वाहन स्वामीयों को एफ आई आर की काॅपी दे दी  जायेगी ।  जोगी के साथ प्रदेश प्रवक्ता सुब्रत डे, सुनंद विश्वास, संजीव अग्रवाल, प्रमोद झा, फरहान कुरैशी, सहित अनेक पीड़ित वाहन स्वामी उपस्थित थे।

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के संस्थापक अध्यक्ष  अजीत जोगी ने सम्पूर्ण घटना पर राज्य शासन व रेल्वे प्रशासन द्वारा किसी भी प्रकार का वाहन स्वामीयों को मदद न किये जाने पर दुख जताया एवं आक्रोश व्यक्त किया। समस्त वाहन स्वामी को भरोसा दिलाया कि उनके इस मुसीबत की घड़ी में वे उनके साथ है एवं चाहे उक्त गाड़ीयों का मुआवजा रेल प्रशासन दे चाहे राज्य शासन दे या रेल्वे ठेकेदार दे वे स्वयं इन स्वामीयों के साथ खड़े है और हर हाल में मुआवजा दिलाकर ही रहेंगे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *