यूपी चुनाव नतीजे में ईवीएम मशीनों से खिलवाड़,उड़ा लोकतंत्र का मज़ाक़-

Last Updated on

जोगी एक्सपेस

लखनऊ  यूपी चुनाव परिणाम में भाजपा को तीन चौथाई बहुमत प्राप्त होने के बाद सभी पार्टी दलों ने भाजपा के पूर्ण बहुमत को भाजपा द्वारा ईवीएम मशीनों में भारी गड़बड़ी और छेड़छाड़ का आरोप लगाया | इसी परिपेक्ष में बसपा प्रमुख मायावती ने भाजपा पर ईवीएम मशीन से छेड़छाड़ का गंभीर आरोप लगाया तथा दुबारा पुरानी बैलेट पेपर व्यवस्था से चुनाव कराने को कहा |
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी चुनाव परिणामों पर ईवीएम मशीन में छेड़छाड़ का संदेह जताया |
कांग्रेश प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर ने भी ईवीएम मशीन की विश्वसनीयता पर उठाये सवाल और कहा हमारी इस हार में गठबंधन की कोई खामी नही रही भाजपा ने चुनाव में धनबल का प्रयोग किया
|


कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि किसी विपक्षी पार्टी की एक वरिष्ठ नेता – मायावती ने पूरी लोकतांत्रिक प्रक्रिया और उत्तर प्रदेश में उपयोग में लाई गई इवीएम की भी निष्पक्षता पर गंभीर और चिन्ताजनक सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने कहा कि चाहे उनके संदेह ठोस हो या बेबुनियाद, चुनाव प्रक्रिया की निष्पक्षता, ईमानदारी पर सभी तरह का संदेह मिटाने के लिए इस मामले का चुनाव आयोग द्वारा समाधान किया जाना चाहिए,उन्होंने कहा कि हमें पक्का विश्वास है कि चुनाव आयोग आपत्तियों पर गौर करेगा और मायावती द्वारा उठाए जाने के बाद लोगों के बीच जो संदेह फैला है, उसे दूर करेगा। बसपा प्रमुख मायावती ने आरोप लगाया कि इवीएम में इस तरह छेड़छाड़ की गयी कि किसी भी बटन को दबाने पर वोट भाजपा को जाता था
इसी तरह सपा के वरिष्ट नेता आज़म खान ने भी बसपा प्रमुख मायावती के ईवीएम मशीन से छेड़छाड़ द्वारा दिए गए बयान का समर्थन किया |
इन सभी तत्वों को देखते हुए यूपी चुनाव के परिणाम द्वारा ईवीएम मशीन पर छेड़छाड़ करने के संकेत से चुनाव की विश्वसनीयता पर एक सवाल पैदा हो गया |

रिपोर्ट : आफाक अहमद मंसूरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *