सरगुजा में नक़ल करने वालो की अब खैर नहीं दर्ज होगा अपराधिक मामला :महावर

जोगी एक्सप्रेस छत्तीसगढ़
सरगुजा संभाग के कमिश्नर एवं सरगुजा विश्वविद्यालय के कुलपति टी.सी. महावर ने कहा है कि महाविद्यालयीन परीक्षा के दौरान यदि कोई परीक्षार्थी अनुचित साधनों का उपयोग करते पाये जाने पर उसके विरूद्ध अपराधिक प्रकरण दर्ज किया जायेगा जिससे वह जीवन पर्यन्त शासकीय सेवा से वंचित रह जायेगा। महावर ने यह निर्देश आज यहां जिला पंचायत के सभाकक्ष में सरगुजा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित की जा रही महाविद्यालयीन परीक्षा की तैयारी के संबंध में सम्पन्न महाविद्यालयों के प्राचार्यो की बैठक में दिये।
कुलपति महावर ने प्राचार्यो से कहा कि महाविद्यालयीन परीक्षाएं समय पर और सुव्यवस्थि ठंग से संचालित कराने के लिए सभी आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा है कि जिन परीक्षा केन्द्रों में प्रश्न पत्र सुरक्षित रखने की व्यवस्था न हो और वहां के प्रश्न पत्र थानों में रखने की आवश्यकता हो तो संबंधित प्राचार्य इसकी सूचना संबंधित कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक को देवें। उन्होंने कहा कि प्रश्न पत्रों की सुरक्षा के लिए सभी आवश्यक ऐहतियाती व्यवस्था सुनिश्चित करें तथा प्रश्न पत्रों को खोलने में पर्याप्त सावधानी बरतें। कुलपति ने कहा कि परीक्षा समाप्त होने के बाद समय पर उत्तर पुस्तिकाएं जमा करायें और इसकी सूचना एसएमएस से देना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि उत्तर पुस्तिकाओं का सही मूल्यांकन कराने के लिए सभी आवश्यक व्यवस्था कराने के निर्देश दिये हैं।
कुलपति महावर ने प्राचार्यो से कहा है कि वे परीक्षा के दौरान परीक्षार्थियों हेतु पेयजल की उचित व्यवस्था रखें। उन्होंने कहा कि जिन परीक्षा केन्द्रों में स्टॉफ की कमी हो तो संबंधित कलेक्टर के सहयोग से स्थानीय स्तर पर परीक्षा संचालन हेतु स्टॉफ की व्यवस्था कर लेंवे। कुलपति ने कुल सचिव से कहा कि परीक्षा केन्द्रों की उत्तर पुस्तिकाएं प्राप्त होने पर उन्हें मूल्यांकन हेतु भेजने के पहले नये बंडल बनाकर बंडल पर नया कोड अंकित करें जिससे गोपनियता बनी रहेगी। उन्होंने बताया कि परीक्षा केन्द्रों के लिए अग्रिम राशि के चेक प्रदान कर दिये गये हैं।
सरगुजा विश्वविद्यालय के कुल सचिव श्री विनोद एक्का ने प्राचार्यो से कहा कि प्रश्न पत्र का बंडल पहॅुचने पर दूसरी और तीसरी पाली के स्टॉफ का इंतजार न कर उपलब्ध स्टॉफ द्वारा प्रश्न पत्र रखवाने की व्यवस्था करें। ज्ञातव्य है कि सरगुजा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित की जा रही वर्ष 2017 की परीक्षाएं 2 मार्च से शुरू होकर 5 मई 2017 तक संचालित होंगी। इन परीक्षाओं के लिए 38 परीक्षा केन्द्र बनाये गयें हैं। इनमें से सरगुजा जिले में 10 परीक्षा केन्द्र, सूरजपुर जिले में 7 परीक्षा केन्द्र, बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में 8 परीक्षा केन्द्र, कोरिया जिले में 5 परीक्षा केन्द्र और जशपुर जिले में 8 परीक्षा केन्द्र बनाये गये हैं। इस वर्ष सरगुजा विश्वविद्यालय के अन्तर्गत 60 हजार 932 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल होंगे। इनमें 26 हजार 38 परीक्षार्थी नियमित और 34 हजार 894 स्वाध्यायी परीक्षार्थी शामिल होंगे। यह परीक्षा तीन पालियों में होगी। पहली पाली सुबह 7 से 10 बजे तक, दूसरी पाली पूर्वान्ह 11 बजे से 2 बजे तक और तीसरी पाली अपरान्ह 3 बजे से सायं 6 बजे तक होगी। उल्लेखनीय है कि सरगुजा विश्वविद्यालय के अन्तर्गत 65 महाविद्यालय हैं।
बैठक में सरगुजा जिले के कलेक्टर भीम सिंह, पुलिस अधीक्षक आर.एस. नायक और सूरजपुर जिले के पुलिस अधीक्षक आर.पी. साय, सूरजपुर के अपर कलेक्टर धृत लहरे, कोरिया जिले की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती निवेदिता पाल शर्मा और अपर संचालक उच्च शिक्षा एस.के. त्रिपाठी और सभी परीक्षा केन्द्रों के प्राचार्य उपस्थित थे।


ए.एन.अशरफ़ी प्रदेश प्रतिनिधि जोगी एक्सप्रेस छत्तीसगढ़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *